यहां महज 50 रुपए में बिक जाते हैं GRP के जवान, यात्रियों की सुरक्षा की कोई फिक्र नहीं 

यहां महज 50 रुपए में बिक जाते हैं GRP के जवान, यात्रियों की सुरक्षा की कोई फिक्र नहीं 

By: Sudakar Singh
January 10, 11:01
0
.......

Bhagalpur : बरौनी-कटिहार रेलखंड के नवगछिया रेलवे स्टेशन पर जीआरपी सब्जी वाले ठेले वालों से खुलेआम वसूली करती है। पुलिस को विभागीय कार्रवाई होने का भी डर नहीं है। स्टेशन की सुरक्षा के लिये तैनात जीआरपी के जवान सुरक्षा में कम पैसे की उगाही में ज्यादा ध्यान देते है। ट्रेन से कटिहार, मधेपुरा, पूर्णिया, नवगछिया से सब्जी अन्य कारोबारी अपने सामान को बेचने खरीदने जाते है। इसी क्रम में तस्करों की भी निगाहें स्टेशन पर सामान निकालने को लेकर टिकी रहती है। जीआरपी छोटे-बड़े सामान की जांच नहीं करती है। इसका फायदा उठाकर हथियार मादक पदार्थों के तस्कर भी पचास से दो सौ रुपये देकर बड़े आराम से अवैध कारोबार को अंजाम दे रहे हैं। 


जीआरपी सब्जी बेचने वाली महिलाएं, छोटे व्यापारियों के सामानों की बगैर जांच किए ही छोड़ देती है। जो बगैर बुकिंग किए ही स्टेशन पर ट्रेनों से उतारे जाते हैं। इसके एवज कारोबारियों से जवान खुलेआम वसूली करते हैं। ऐसे में यह सवाल उठता है कि सब्जी की टोकरियों में मादक पदार्थ और हथियार भी हो सकते हैं। मगर जीआरपी को इसकी परवाह नहीं है। वसूली के चक्कर में रेल यात्रियों की सुरक्षा से खिलवाड़ कर रहे हैं। यदि हालात यहीं रहे तो इसका फायदा उठाने का मौका इस रूट के तस्कर नहीं छोड़ेंगे। 


वसूली के खेल में सामने आया कि छोटे सब्जी कारोबारियों से जीआरपी वसूली करती है। इसें यह भी सच सामने आया कि यदि कोई सब्जी वाला पैसा देने में असमर्थता जाहिर करता है, तो उसे रुपए के बदले सब्जी देनी पड़ जाती है।

कैमरे में पैसे की वसूली करते कैद हुए फोटो में जीआरपी जवान प्रमोद कुमार, छबीला पासवान सहित अन्य जवानों चेहरे कैद हैं, जो हर दिन रेलवे स्टेशन पर वसूली के खेल में जुटे हुए हैं। रेल पुलिस की लापरवाही से स्टेशन पर या ट्रेनों में कोई बड़ा हादसा हो सकता है। नवगछिया स्टेशन के रास्ते ट्रेनों से हथियारों के साथ ही मादक पदार्थों की तस्करी होती है। जीआरपी के इस रवैये से तस्करों को हौसला बढता है।  

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।
comments