पादरी की रिहाई पर बोले केंद्रीय मंत्री वी.के सिंह- सरकार ने बिना शोर मचाए किया अपना काम

पादरी की रिहाई पर बोले केंद्रीय मंत्री वी.के सिंह- सरकार ने बिना शोर मचाए किया अपना काम

By: Rohit saklani
September 13, 07:09
0
....

NEW DELHI: यमन से ISIS आतंकियों की गिरफ्त से छुड़ाए गए भारतीय पादरी टॉम उजुनालिल पर विदेश मंत्रालय ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान विदेश राज्य मंत्री जनरल वी.के सिंह ने कहा कि भारतीय पादरी टॉम उजुनालिल को छुड़ाने के लिए सरकार ने अपहरणकर्ताओं को कोई फिरौती नहीं दी। 

आपको बता दें केरल के इस पादरी को 6 मार्च 2016 को यमन में एक घर पर एक घातक हमले के दौरान ISIS के आतंकियों ने गिरफ्तार कर लिया था। इस हमले में करीब 15 लोग मारे गए थे। विदेश राज्य मंत्री जनरल वी.के सिंह ने कहा कि पादरी टॉम उजुनालिल की रिहाई के लिए विदेश मंत्रालय ने बिना हल्ला मचाए चुपचाप अपने काम को पूरा किया। 

वी.के सिंह ने कहा जब उजुनालिल यमन से गायब हो गए थे तो हमें पता था की लोग हमारी आलोचना करेंगे, लेकिन वे अब सुरक्षित हैं, मुझे उम्मीद है की लोग अब इस बात की सराहना करेंगे। ISIS के चंगुल से पादरी को छुड़ाने के लिए सरकार ने कई तरीके अपनाए, हालांकी कई बार हम विफल भी रहे, लेकिन आखिर में हमें जीत मिली और हमने पादरी को सुरक्षित ISIS के चंगुल से छुड़ाया।

पिछले साल उज़ुनालिल का एक वीडियो सामने आया था जिसमें उन्होंने सरकार से खुद को रिहा करने की अपील की थी। वीडियो में पादरी ने कहा था कि अगर मैं एक यूरोपीय पुजारी होता तो मुझे और अधिक गंभीरता से लिया जाता, लेकिन मैं भारत से हूं, शायद मुझे गंभीरता से नहीं लिया जाएगा। आपको बता दें जुलाई में केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज ने यमन के उप प्रधान मंत्री के सामने उज़ुनालिल के अपहरण का मुद्दा भी उठाया था और पुजारी की रिहाई के लिए उनसे गुजारिश भी की थी। इससे पहले विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा था कि पिछले साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद पादरी को छुड़ाने के लिए उन सभी देशों से बात की है जहां भारत का अपना दूतावास नहीं है।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

comments
No Comments