हॉस्पिटल में प्रेग्नेंट ने दिया मरे बच्चे को जन्म, नर्स ने कहा- 600 रु. दो तब मिलेगी डेडबॉडी

हॉस्पिटल में प्रेग्नेंट ने दिया मरे बच्चे को जन्म, नर्स ने कहा- 600 रु. दो तब मिलेगी डेडबॉडी

By: Anurag Goel
August 26, 03:08
0
...

SAHARSA :  सहरसा सदर अस्पताल में शुक्रवार को नर्स ने एक महिला को उसके मृत बच्चे का शव देने के लिए भी छह सौ रुपए की मांग की। पैसे नहीं देने पर शव देने से इनकार कर दिया।

जब पीड़ित परिजन व आशा कार्यकत्री ने इसकी शिकायत सिविल सर्जन से की तो उन्होंने शव तो दिला दिया। मगर पैसे मांगने वाली नर्स पर कार्रवाई तो दूर फटकार तक नहीं लगाई जिससे यही संदेश गया कि पैसों की मांग वरिष्ठ चिकित्सकों के संरक्षण में ही होती है।

जानकारी के अनुसार, कोसी तटबंध के अंदर मिसरोलिया गांव निवासी विनय कुमार यादव ने बताया की उनकी पत्नी रामकुमारी देवी गर्भवती थी। शनिवार की देर रात वह दर्द से परेशान थी।

सुबह चार बजे वह नाव से कोसी नदी पार कर पत्नी को नवहट्टा पीएचसी ले गए। जहां सभी स्वास्थ्य कर्मी सो रहे थे। किसी तरह नर्स को जगाया और उसे पत्नी की परेशानी बताई।

लेकिन नर्स ने भरती करने के लिए पैसों की मांग की। जब उन लोगों ने पैसे मांगने का विरोध किया तो कमरे में बैठे प्रभारी चिकित्सक भी पत्नी का इलाज करने के बजाय सदर अस्पताल रेफर कर दिए।

जब एम्बुलेंस की मांग की तो कहा की यह बाढ़ पीडितों के लिए है। जब उन्हें बताया गया कि वह लोग भी बाढ़ पीड़ित ही हैं तब कहा गया कि ड्राइवर को खोज कर बात कर लो।

जब एम्बुलेंस नहीं मिली तब वह गर्भवती पत्नी को टेम्पो से लेकर सदर अस्पताल पहुंचे। यहां नर्स ने प्रसव कराया। लेकिन नवजात की मौत हो चुकी थी।

इसके बाद नर्स ने नवजात के शव को देने के लिए छह सौ रुपए की मांग की। पिछले सात दोनों में प्रसूता के सात लापरवाही का ये दूसरा मामला है।

परिजनों और आशा ने किया विरोध तब मिला शव

प्रसूता के साथ गांव से सदर अस्पताल तक साथ आयी आशा कार्यकर्ता सीता देवी ने नर्स द्वारा पैसे मांगने का विरोध किया गया मगर नर्स बगैर पैसा लिए नवजात का शव देने से इनकार कर दी।

इसके बाद पीड़ित परिजन व आशा कार्यकत्री सदर अस्पताल के डीएस एवं सिविल सर्जन को आवेदन देकर शिकायत की। शिकायत मिलने के बाद सिविल सर्जन डा. अशोक कुमार सिंह ने आरोपी नर्स से महज पूछताछ कर बिना कोई कार्रवाई किये एम्बुलेंस पर प्रसूता व उनके परिजनों को बिठाकर घर भेज दिया ।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

comments
No Comments